Select Page

Saputara (सापुतारा)

सापुतारा एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है, जो गुजरात के डांग जिले का हिस्सा है। यह सह्याद्री या पश्चिमी घाट में स्थित एक हिल स्टेशन के रूप में जाना जाता है। सापुतारा राष्ट्रीय राजमार्ग 953 पर स्थित है, मुख्य रूप से Saputara एक आदिवासी इलाका है, यहां पर आदिवासी लोग रहते है, जो इस खूबसूरत जगह की देखरेख करते है और आपना जीवन यापन करते है। saputara पर्यटन स्थल यहां की संस्कृति को दिखता है, इससे पता चलता है, की यहां की संस्कृति और यहां का वातावरण केसा है। 

Saputara हरे-भरे परिवेश से भरपूर स्थान है, यहां पर हर वर्ष पुरे भारत से लोग घूमने के लिए आते है।  यहां आपको घने पहाड़ और पर्यटकों से गुलजार रोडवेज, आश्चर्य, प्राकृतिक सुंदरता देखने को मिलती है। सापुतारा में घूमने के लिए कई स्थान हैं, हम आपको यहां के सबसे खूबसूरत स्थानों के बारे में आपको बतायेगे, जहा पर आपको एक बार जरूर जाना चाहिए। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 875 मीटर है। यदि आप प्रकृति प्रेमि है जो आपके लिए यह स्थान सबसे बेहतर है। यहां की शांत जलवायु, झरने, झीलों और चोटियों का संग्रह दिखाई देता है। 

Saputara स्थल का अर्थ

Saputara (सापुतारा) के बारे में कई लोगो का अलग अलग मत है, सापुतारा का अर्थ उसके इतिहास और संस्कृति को पूरी तरह से परिभाषित करता है। Saputara का शाब्दिक अर्थ सांपों की भूमि से है। यहां पर प्राचीन परम्परा के अनुसार यहां के स्थानीय लोग हर वर्ष होली के महीने में सांपों की पूजा करते हैं, और उनका ध्यान करते है। यह सभी लोगजंगलो से जुड़े हुए है और उसी के अनुसार अपनी पूजा अर्चना करते है। इसलिए इसका saputara रखा गया है। 

Saputara कैसे पहुंचे –

Saputara
Saputara (सापुतारा)

Saputara पहुंचने के लिए आपको किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना होता है। आप भारत के सभी क्षेत्र से आसानी से यहां तक पहुंच सकते है, यह सड़क मार्ग, रेल मार्ग और वायु मार्ग से जुड़ा हुआ है। 

सड़क मार्ग

यदि आप सड़क मार्ग से Saputara पहुंचना चाहते है, तो आपको यहां बस द्वारा या अपने निजी वाहन से पहुंच सकते है। Saputara से मुख्य शहर अहमदाबाद: 409 किमी, है। वही सूरत से यह 164 किमी है। Saputara गुजरात और मुंबई की सिमा पर स्थित है यह मुंबई से 250 किमी है। अहमदाबाद से राज्य परिवहन की बसें चलती है, जिसके माध्यम से आप यहां तक पहुंच सकते है। 

रेलमार्ग

आप रेलमार्ग से Saputara आना चाहते है, तो पश्चिम रेलवे के बिलिमोरा-वाघई नैरो गेज खंड पर निकटतम रेलवे स्टेशन वाघई है। यहां से Saputara बहुत करीब है यहां से आप सड़क मार्ग से पहुंच सकते है। यदि आप मुंबई से आते है, तो आपके लिए बिलिमोरा अधिक सुविधाजनक रेल मार्ग होगा।

हवाई मार्ग

हवाई मार्ग के माध्यम से भी आप यहां तक पहुंच सकते है। Saputara के सबसे निकटम हवाई अड्डा 120 किमी दूर सूरत में है। यहां उतरने के बाद आप सड़क मार्ग से इस जगह पर पहुंच सकते है। 

सापुतारा में घूमने के लिए कुछ बेहतरीन स्थान –

हम आपको इसके सबसे खूबसूरत स्थानों के बारे में आपको बताएगी जहा आप जाकर इनका आनंद ले सकते है।

Hatgadh Fort (हाटगढ़ किला)

हाटगढ़ किला सापुतारा का सबसे बेहतरीन किला है, यह सापुतारा से मात्र 5 किमी की दूरी पर स्थित है। यह किला लगभग 3,600 फीट की ऊंचाई पर बना है। यहां तक पहुंचने के लिए आप आसान ट्रेकिंग का उपयोग कर सकते है। घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। हाटगढ़ किला पर्यटक के लिए सबसे पसंदीदा जगह रही है, किले के ऊपर से पूरी घाटी और सुरगाना गांव के शानदार दृश्यों को आप देख सकते है। 

Sunrise Point वैली व्यूपॉइंट

वैली व्यूपॉइंट को Saputara का Sunrise Point कहा जाता है। यह सापुतारा में स्थित एक चोटी है, जिसे देखने के लिए आपको 1.5 किमी के ट्रेक द्वारा पहुंचना होता है, यहां का sun सेट बहुत खूबसूरत माना जाता है। यहां से आप हिल स्टेशन के चारों ओर बसे गांवों और हरे भरे जंगलों को देख सकते है। 

Vansda National Park वंसदा राष्ट्रीय उद्यान

वंसदा राष्ट्रीय उद्यान भी आपको बहुत पसनद आएगा, यह 23.99 वर्ग किमी के विस्तार में फैला है, जिसमे आपको कई तरह के जानवरो को देखने का मीका मिलता है। यह सापुतारा से लगभग 40 किमी दूर है। यह जंगल काफी खूबसूरत है और पर्यटन के लिए सबसे उत्तम है, यहां का वातवरण उष्णकटिबंधीय आर्द्र है।  वंसदा राष्ट्रीय उद्यान में घने नम पर्णपाती जंगल देखने को मिलते है।  वंसदा राष्ट्रीय उद्यान को सापुतारा में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक माना जाता है। यहां पर आपको तेंदुए, भर, चार सींग वाले मृग, लकड़बग्घा, जंगली सूअर, सांप और कई प्रकार के जिव आपको देखने को मितले है। 

Saputara Lake सापुतारा झील

Saputara lake सापुतारा
Saputara (सापुतारा)

सापुतारा झील सबसे खूबसूरत जगह में से एक है। सापुतारा हिल स्टेशन से लगभग 1.5 किमी दूर स्थित है, यहां पर पहुंचना आसान है, इसे सापुतारा घाटी के सबसे प्रसिद्ध पिकनिक स्थलों में से एक माना जाता है। यहां पर कई लोग पिकनिक मानाने आते है। सापुतारा झील एक मानव निर्मित झील है, जहा पर आप नौका विहार का आनंद ले सकते है। 

Gira Waterfalls

यदि आप सापुतारा जाते है, तो आपको Gira Waterfalls जरूर जाना चाहिए। यह सापुतारा के करीब वाघई के पास वानारचोड गाँव में स्थित है। यहाँ पर जाने का सही समय मानसून के बाद का है, इस समय इसका झरना आपको बहता हुआ मिलता है।

Saputara Tribal Museum सापुतारा जनजातीय संग्रहालय

सापुतारा जनजातीय संग्रहालय देखने योग्य है। इस संग्रहालय में आपको आदिवासी इलाके की जीवन शैली देखने को मिलती है। यह सूरत और नासिक के राजमार्ग पर स्थित एक छोटा संग्रहालय है लेकन बहुत खूबसूरत है। Saputara में कई आदिवासी समुदायों की कई कलाकृतियाँ हैं, जिनमे भील, कुनबी, गामित शामिल हैं। इसमें आपको इनके द्वारा उपयोग किये जाने वाले कपड़े, बर्तन, पारंपरिक लेख, जीवन शैली, घर की वस्तुएं, संगीत वाद्ययंत्र देखने को मिलते है।   

सप्तश्रृंगी देवी मंदिर Saptashringi Devi Mandir

यह मंदिर सापुतारा में स्थित है, यह एक भव्य मंदिर है जिसकी पूजा अर्चना यहां के स्थानीय लोग द्वारा की जाती है। यदि आप अन्य पर्यटन स्थल को द्केहने आते है, तो आपको इस मंदरी में जरूर आना चाहिए। यह पहाड़ी पर स्थित देवी मंदरी है, यह रोजाना सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक खुला रहता है। इस मंदिर को भारतीय उपमहाद्वीप के शक्ति पीठों में से एक माना जाता है।

पूर्णा अभयारण्य

पूर्णा अभयारण्य पश्चिमी घाट के घने जंगलों में स्थित है, यह 1608 किमी में फैला हुआ है और 1990 में स्थापित किया गया था। यहां पर आपको वनस्पतियों और जीवों को देखने का मौका मिलता है। बड़ी संख्या में जानवर इस अभयारण्य में मिलते है, जिसमे सुस्त भालू, हाथी, जंगली बैल और गैंडे। इसके साथ ही बाँस के गुच्छे और सागौन के पेड़ पौधों की कई प्रजातियों इसमें आपको मिलती है। यहां 700 से 800 अन्य ज्ञात पौधों की प्रजातियों के रूप में प्रमुख हैं। यहां पर जाने के लिए आपको केवल 20 रुपये प्रति व्यक्ति का टिकट लेना होता है। 

रोपवे

यदि आपको रोपवे का सफर करना पसंद है, तो सापुतारा में आपको सबसे सूंदर रोपवे मिलता है। यहां का रोपवे जमीन से लगभग 30 फीट ऊपर है और उपरोक्त सनसेट पॉइंट तक पहुंचने के लिए उपयोग किया जाता है। पर्यटकों को रोपवे के माध्यम से शहर का अद्भुत नजारा देखने को मिलता है और पैनोरमा का विहंगम दृश्य दिखाई देता यही। रोपवे सुबह 9 बजे से शाम 5:30 बजे तक खुला रहता है, इसके लिए आपको प्रवेश शुल्क देना होता है।

Saputara जाने का सही समय

यदि आप Saputara घूमने का प्लान बना रहे है, तो आप वैसे तो यहां वर्षभर जा सकते है, लेकन यदि आपको हरियाली देखना पसंद है, तो आप यहां मानसून के बाद जाये। आप इसके लिए सितम्बर से दिसम्बर महीने में कभी भी जा सकते है। 

अंतिम शब्द

ऊपर बताई गयी जगह के अलावा भी आपको Saputara में कई पर्यटन स्थल देखने को मिलते है। जब आप यहां पर जायेगे तो आपको कई और खूबसूरत जगह दिखाई देती है, जहा पर आप अपनी छुट्टिया बिता सकते है। आपको हमारी यह पोस्ट किसी लगी हमे जरूर बताये, इससे संबंधित आपका कोई ने सवाल हो तो हमे कमेंट जरूर करे। 

-धन्यवाद